पेड़ों की छंटाई के नाम पर की गई बर्बरता पूर्वक कटाई

Total Views : 15
Zoom In Zoom Out Read Later Print

सीसीएल ढोरी-कथारा प्रक्षेत्र महाप्रबंधक कार्यालय किसी पहचान का मोहताज नहीं है।कार्यालय प्रागंण की सुंदरता और हरा-भरा करने के लिए उच्च किस्म के साथ अशोक के पौधे लगाए गए थे। सालों में यह पौधे वृक्षों का रूप धारण कर चुके थे। वहीं शनिवार को कुल्हाड़ी से पहले इन पेड़ों की शाखा को काटा गया। और उसके बाद इनके मोटे तनों को काट दिया गया।छंटाई के नाम पर की गई कटाई में लगभग 25 फीट उंचे इन पेड़ों को ठूंठ में बदल दिया गया है।

करीब 19 फीट काट कर तने को मात्र 6 फीट के लगभग छोड़ दिया गया है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि इतने बड़े तने के हिस्से को काटने से यह पेड़ मर भी सकता है। यदि कटाई करनी थी तो बारिश में अन्यथा इस पेड़ के उत्तक हवा के प्रभाव में आकर निष्क्रिय हो जाएंगे। तने की कोशिकाओं के जाइलम क्रियाशील नहीं रहेगा और पेड़ में कोशिकाओं का बनना बंद हो सकता है। वहीं पर्यावरण अधिकारी ढोरी एरिया गौरव कुमार सिंह से ने कहा कि मुझसे कीसी प्रकार की परमिशन नहीं ली गई। वहीं एसोओसी बी आर नंदा से जब संपर्क साधा गया तो उनका नंबर बंद बता रहा था। अब देखना यह दिलचस्प होगा कि आगे की कार्रवाई क्या होती है।

See More

Latest Photos